Gk Trick

Child Development and Pedagogy Part 20

Child Development and Pedagogy Part 20

Child Development and Pedagogy Part 20

  • एक अध्‍यापक / अध्‍यापिका ने पाया कि एक विद्यार्थी वर्ग बनाने में कठिनाई अनुभव कर रहा है, उसने अनुमान लगाया कि वह हीरे (Diamond) का चित्र बनाने में भी कठिनाई अनुभव करगा, उसने निम्‍नलिखित में से किस सिद्धान्‍त पर आधारित होकर यह अनुमान लगाया – विकास एक व्‍यवस्थित क्रम में होने की प्रवृत्ति से सम्‍बद्ध है।
  • योग्‍यता व योग्‍यता समूहीकरण के परिप्रेक्ष्‍य में निम्‍नलिखित में से कौन सा कथन सत्‍य है – विभिन्‍न योग्‍यता वाले समूहों को ग्रहण करने के लिए अध्‍यापकों को बहु-स्‍तरीय शिक्षण को अपनाना चाहिए।
  • निम्‍नलिखित में से कौन सा कथन सत्‍य है – रचनात्‍मक आकलन कभी-कभी संकलनात्‍मक हो सकताहै एवं इसी प्रकार विपरीतत:
  • एक अध्‍यापक / अध्‍यापिका विद्यार्थियों को किसी विषय की अपनी अवबोधनात्‍मकता को प्रतिबिम्बित करते हुए संकल्‍पनात्‍मक मानचित्र (Concept map) का निर्माण करने को कहता / कहती है, वह है – रचनात्‍मक आकलन कर रहा /रही है।
  • निम्‍नलिखित में से कौन सा ब्‍लूम के पुनर्संशोधित वर्गीकरण में ‘मूल्‍यांकन’ (Evaluating) के क्षेत्र को प्रदर्शित करता है – एक समाधान की तार्किक सुसंगतता का परीक्षण करना।
  • वंचित शिक्षार्थियों के साथ व्‍यवहार करने के संदर्भ में अध्‍यापिका / अध्‍यापक को निम्‍नलिखित मूल्‍यों में से किसमें विश्‍वास व्‍यक्त करना चाहिए – छात्रों की सफलता हेतु व्‍यक्तिगत उत्‍तरदायित्‍व
  • निम्‍नलिखित में से किस पद्धति का उपयोग करते हुए हकलाने (Stuttering) की समस्‍या से निपटा जा सकता है – प्रवर्द्धित वाक् (Prolonged speech)
  • सीखने में अशक्‍त (Disabled) बच्‍चों के संदर्भ में तत्‍काल सम्‍बद्धता प्रदान करना, सहयोग पर बल देना तथा गैर-अधिगमनात्‍मक तकनीकी, जैसी तत्‍काल सूचनात्‍मकता, बुद्धिपूर्वक गन्‍वेषणा तथा सामग्री प्रबंधन, का उत्‍तोलन (Leveraging) निम्‍नलिखित में से किस प्रारूप से सम्‍बद्ध है – संग्रथित अधिगम(Embedded Learning)
  • एक समावेशी कक्षा वह है, जहाँ – अध्‍यापक प्रत्‍येक अधिगमकर्ता के लिए वैविध्‍यपूर्ण व सार्थक अधिगमनात्‍मक अनुभवों हेतु परिवेश का निर्माण करते हैं।
  • निम्‍नलिखित में से कौन सा प्रदत्‍तकार्य (Assignment) प्रतिभाशाली विद्यार्थी के लिए उपयुक्‍त है – विभिन्‍न विषयों (themes) को ध्‍यान में रखते हुए विज्ञान की नई आदर्शात्‍मक पुस्‍तक का निर्माण करना।
  • विद्यालय छोड़ने वाले विद्यार्थियों के नियंत्रण की दृष्टि से सरकारी संगठनों द्वारा संस्‍था के स्‍तर पर विभिन्‍न उपाय किए गए हैं, निम्‍नलिखित में से कौन सा कारण सांस्‍थानिक स्‍तर से जुड़ा है जिसके कारण बच्‍चे विद्यालय छोड़ देते हैं – जो बच्‍चे अनिवार्य पाठ्यचर्चा को स्‍वीकार नहीं कर पाते उनके लिए बिकल्‍पात्‍मक पाठ्यचर्चा का न होना।
  • बच्‍चों के व्‍यवहार के समझने के लिए विद्यार्थियों के घर के वातावरण का महत्‍वपूर्ण स्‍थान है तथा इससे प्राप्‍त सूचना को प्रभावशाली शिक्षा-शास्‍त्र के निर्माण से जोड़ा जा सकता है, वह तथ्‍य अधिगम के किस सिद्धान्‍त से सम्‍बद्ध है – पारिस्थितिक (Ecological)
  • कक्षा में ध्‍यान न देने वाले बच्‍चे से व्‍यवहार करने के लिए कौन सा उपाय सर्वाधिक लाभकारी हो सकता है– बच्‍चे को उस जगह बैठाना जहाँ सबसे कम ध्‍यान भंग हो सके।
  • ब्‍लूम की टैक्‍सोनॉमी ………. की पदानुक्रमिक व्‍यवस्‍था है – संज्ञानात्‍मक उद्देश्यों
  • अ, ब, स तीन विद्यार्थी हैं जो अंग्रेजी पढ़ते हैं, ‘अ’ को यह विषय रोचक लगता है और वह सोचता है कि यह उसके भविष्‍य में सहायक होगा। ‘ब’ अंग्रेजी इसलिए पढ़ती है, क्‍योंकि वह कक्षा में पहला स्‍थान प्राप्‍त करना चाहती है, ‘स’ अंग्रेजी विषय इसलिए पढ़ता है, क्‍योंकि उसका प्राथमिक सरोकार उत्‍तीर्ण होने वाले ग्रेड्स प्राप्‍त करना है, अ, ब और स के उद्देश्‍य क्रमश: है – निपुणता, निष्‍पादन, निष्‍पादन-उपेक्षा
  • हालांकि यह स्‍पष्‍ट रूप से उनकी सुरक्षा आवश्‍यकताओं के उल्लंघन में था, कैप्‍टन विक्रम बत्रा अपने देश को बचाने के दौरान कारगिल युद्ध में मारे गए, संभवत: उन्‍हें ……… था /थी – आत्‍म सिद्ध की प्राप्ति
  • एक समावेशी विद्यालय …………. के अतिरिक्‍त निम्‍नलिखित सभी प्रश्‍नों पर मनन करता है – क्‍या हम विशेष बालक को बेहतर देखभाल उपलब्‍ध कराने के लिए उचित तरीके से उनहें सामान्‍य से अलग करते हैं।
  • दिए गए वाक्‍य को पूरा करने के लिए निम्‍न‍िलिखित में से कौन सा युग्‍म सर्वाधिक उचित विकल्‍प होगा जब बच्‍चे उन गतिविधियों में शामिल होते हैं जो ………. होती है, तब वे जल्‍दी ……….. करते हैं – वास्‍तविक जीवन में उपयोगी, सीखा
  • सी. बी. एस. ई. शिक्षार्थियों के लिए व्‍यक्तिगत गतिविधियों के स्‍थान पर सामूहिक गति‍विधियों की संस्‍तुति करती है, ऐसा करने के पीछे विचार हो सकता है – व्‍यक्तिगत प्रतिस्‍पर्धा के प्रति नकारात्‍मक संवेगात्‍मक प्रतिक्रियाओं से उबारना जो सम्‍पूर्ण अधिगम पर सामान्‍यीकृत हो सकती है।
  • भारत सरकार ने प्राथमिक विद्यालयों के लिए मध्‍यान्‍ह भोजन योजना प्रारम्‍भ की है, निम्‍नलिखित में से कौन सा अभिप्रेरणात्‍मक सिद्धान्‍त इस योजना का समर्थन करता है – मानवीय
  • राष्‍ट्रीय पाठ्यचर्चा की रूपरेखा 2005 की संस्‍तुतियों के संबंध में कौन सा कथन सत्‍य नहीं है – विश्‍व विद्यालयों को राजनीति से मुक्‍त रखना।
  • बच्‍चों के भाषायी विकास के लिए जरूरी है कि – उनको अधिक-से-अधिक अपने विचार व्‍यक्‍त करने के अवसर देने चाहिए। भाषायी कौशलों के विकास हेतु गतिविधियाँ आयोजित की जानी चाहिए। लिखना, पढ़ना, बोलना तथा सुननेका अभ्‍यास करना चाहिए।
  • कक्षा-कक्ष में बैठक व्‍यवस्‍था कैसी होनी चाहिए – कक्षा-कक्ष में कराई जा रही गतिविधियों के अनुरूप
  • ज्ञान रचनात्‍मकता सिद्धान्‍त आधारित शिक्षण का आधार है – करके सीखना।
  • कक्षा-कक्ष परिस्थिति में श्रव्‍य-दृश्‍य सहायक सामग्रियाँ प्रयोग में लेते समय शिक्षण का निम्‍नलिखित में से कौन सा सूत्र सम्मिलित होता है – मूर्त से अमूर्त
  • निम्‍नलिखित में से कौन से शिक्षण मॉडल (शिक्षणप्रतिमान) का उद्देश्‍य तथ्‍यों एवं सम्‍प्रत्‍ययों का अवबोध (समझना) करना है – अग्रिम संगठक
  • प्रक्रिया सामग्री (सॉफ्टवेयर) उपागम का उदाहरण है – अनुदेशक
  • कौन सा अधिगम के निर्मित कारण का सिद्धान्‍त नहीं है – अधिगम तात्‍कालिक है।
  • ‘वैज्ञानिक पूछताछ (परिपृच्‍छा)’ मॉडल (प्रतिमान) के प्रतिपादक हैं – रिचर्ड सचमैन
  • निम्नलिखित में से कौन सा कथन निर्मितवाद के संदर्भ में सही है – अधिगमकर्ता के अंदर ज्ञान का निर्माण होता है।
  • निम्‍न में से कौनसा परीक्षण जो जीवन पर्यन्‍त चलने वाले अनौपचारिक अधिगम द्वारा प्राप्‍त सूचनाओं पर केन्द्रित है – व्‍यक्तित्‍व परीक्षण
  • किसी आदर्श के अनुरूप व्‍यवहार को ढालने की प्रक्रिया को कहा जाता है – शिक्षण प्रतिमान
  • शिक्षण प्रतिमान के तत्‍व है – लक्ष्‍य एवं उद्देश्‍य, उद्देश्‍य एवं संरचना, सामाजिक प्रणाली एवं मूल्‍यांकन
  • आधुनिक अभिक्रमित अनुदेशन की उत्‍पत्ति का कारक है – अधिगम का मनोविज्ञान व तकनीकी
  • शिक्षण अधिगम प्रक्रिया में व्‍यक्तिगत रूप से ध्‍यान देना महत्‍वपूर्ण है, क्‍योंकि – इससे प्रत्‍येक शिक्षार्थी के अनुशासित करने के लिए शिक्षकों को बेहतर अवसर मिलते हैं।
  • निम्‍न में से किस शिक्षण व्‍यूहरचना का संबंध जनतांत्रित व्‍यूह रचनाओं से नहीं है – मस्तिष्‍क उद्द्वेलन व्‍यूहरचना
  • शिक्षण में उत्‍तम प्रणाली वह है जिसमें – अध्‍यापक और छात्र दोनों प्रश्‍न पूछें।
  • कौन से आव्‍यूह को सुकराती विधि भी कहा जाता है – प्रश्‍नोत्‍तर आव्‍यूह
  • निर्देशन दिया जाना चाहिए – आजीवन
  • निर्मितवाद के अनुसार निम्‍न में से कौन सा कथन गलत है – ज्ञान के हस्‍तांतरण का उत्‍तरदायित्‍व शिक्षक का है।
  • शिक्षण का वह प्रतिमान जिसका सर्वाधिक प्रयोग भाषा व व्‍याकरण शिक्षण हेतु उपयोगी है – पृच्‍छा प्रशिक्षण प्रतिमान
  • बालक को कक्षा में नियमित आने के लिए प्रेरितकरने का उपयुक्‍त सुझाव है – प्रोत्‍साहन
  • एक अध्‍यापक श्रृव्‍य दृश्‍य शिक्षण सामग्री के प्रयोग से अपने अध्‍यापन को – सरल बनाता है।
  • निम्‍न में से कौन सा अधिगम का निर्मितवाद उपागम है – छात्र जो नवीन सूचना की विस्‍तार से विश्‍लेषण करता है, व्‍याख्‍या करता है और पूर्वज्ञान से जोड़कर सीखता है।
  • निम्‍नलिखित में से कौन सा एक अन्‍य विकल्‍पों से संबद्ध नहीं है – स्‍व-आकलन के कौशल को प्रतिमानित करना।
  • निम्‍नलिखित में से कौन सा प्रश्‍न अपने विशिष्‍ट क्षेत्र से ठीक तरह से मिला हुआ है – निर्धारित कीजिए कि दिए गए मापकों में से कौन सा मापक आपको उत्‍तम परिणामों को पाने में सर्वाधिक प्रवृत्‍त कर सकता है–विश्‍लेषण
  • निम्‍नलिखित में से कौन सी सर्वाधिक प्रभावकारी विधि हो सकती है, जो आपकी इस अपेक्षा को पूरी कर सके कि वंचित विद्यार्थी अपनी भागीदारिता द्वारा सफल हो सके – आप उनकी सफलता हेतु उनकी क्षमता में विश्‍वास को अभिव्‍यक्त करें।
  • निम्‍नलिखित में से कौन सा विकासात्‍मक विकार का उदाहरण नहीं है – पर-अभिघातज तनाव (Post-traumatic stress)
  • बहुशिक्षण-शास्‍त्रीय तकनीकें, वर्गीकृत अधिगम सामग्री, बहु-आकलन तकनीकें तथा परिवर्तनीय जटिलता एवं सामग्री का स्‍वरूप निम्‍नलिखित में से किससे सम्‍बद्ध है – विभेदित अनुदेशन
  • विद्यालयों में समावेशन मुख्‍यत: केन्द्रित होता है – विशिष्‍ट श्रेणी वाले बच्‍चों के लिए सूक्ष्‍मातिसूक्ष्‍म प्रावधानों के निर्माण पर
  • बच्‍चों में सीखी गई निस्‍सहायता का कारण है – इस व्‍यवहार को अर्जितकर लेना कि वे सफल नहीं हो सकते।
  • यदि एक विद्यार्थी विद्यालय में लगातार निम्‍नतर श्रेणीप्राप्‍त करती है, तो उसके अभिभावक को उसकी सहायता हेतु परामर्श दिया जा सकात है कि – वह अध्‍यापकों की घनिष्‍ठ संगति में कार्य करें।
  • निम्‍नलिखित में से समस्‍या-समाधान को क्‍या बाधित नहीं करता – अंतर्दृष्टि (Insight)
  • एक शिक्षिका पाठ को पूर्वपठित पाठ से जोड़ते हुए बच्‍चों को सारांश लिखना सिखा रही है, वह क्‍या कर रही है – वह बच्‍चों की पाठ समझने की स्‍वशैली विकसित करने में सहायता कर रही है।

Related posts

Child Development and Pedagogy Part 18

admin

Environmental Studies Part 7 – Sanctuary and Biosphere Reserves

admin

Child Development and Pedagogy Part 22

admin

Leave a Comment